‘जिधर भारत चलेगा, उधर ही अब दुनिया चलने वाली है’, पीएम मोदी बोले- लोकल को ग्लोबल बना रहा मेरठ

0
63


PM Modi in Meerut: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने यूपी में चुनाव प्रचार को धार देते हुए आज मेरठ में एक रैली को संबोधित किया. उन्होंने इस दौरान कहा कि मेरठ लोकल को ग्लोबल बना रहा है. पहले की सरकारों में चीनी कौड़ियो के भाव बेची जाती थी, योगी सरकार में चीनी मिलों का विस्तार हुआ है. 12 हजार करोड़ का एथनॉल यूपी से खरीदा गया है. कोल्ड स्टोरेज पर एक लाख करोड़ रुपए खर्च किये जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मेरठ की रेवड़ी, गजक, हेंडलूम, ब्रास बैंड आभूषण यहां की शान हैं.

पीएम मोदी ने बोले कि खेलो के लिए पहले की सरकारें इको सिस्टम तैयार नही कर पाईं. हमारी सरकार ने खिलाड़ियों को 4 शस्त्र दिए हैं, जो इतिहास में पहले कभी नही हुआ, पिछले साल ओलिम्पिक में हमने करके दिखाया. यूपी, उत्तराखंड के सामान्य परिवारों के बेटे-बेटियां हमारे देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमारे देश मे खेल संस्कृति समृद्ध रही है. मेरठ में होने वाले दंगल और उसमें लड्डुओं का पुरस्कार मिलता है. उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों की नीतियों की वजह से खेल देखने का नजरिया अलग रहा है.

ये भी पढ़ें- AAP Lucknow Rally: BJP-SP पर CM केजरीवाल का निशाना, बोले- एक ने कब्रिस्तान तो दूसरे ने श्मशान बनवाए, हमें मौका दीजिए हम…

पीएम मोदी ने कहा कि साल के शुरुआत में मेरठ आना मेरे लिए अहम है. मेरठ हमारी संस्कृति, हमारे सामर्थ्य का केंद्र है. महाभारत, रामायण से लेकर जैन तीर्थंकर ने हमें ऊर्जावान किया है. सिंधु घाटी सभ्यता से आजादी की क्रांति ने हमें सिखाया सामर्थ्य क्या होता है. गुलामी की अंधेरी सुरंग में देश को नई रोशनी मेरठ ने दिखाई. हम आजाद हुए और आज अमृत महोत्सव मना रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि मुझे औघड़नाथ मंदिर जाने का अवसर मिला. अमर जवान ज्योति, संग्रहालय में अनुभव किया कि देश के लिए कुछ कर गुजरने वालों के लिए राष्ट्र रक्षा क्या होती है. सीमा पर बलिदान या खेल के मैदान में सम्मान ने इस देशभक्ति को प्रज्ज्वलित रखा है.

चौधरी चरणसिंह का जिक्र

पीएम मोदी ने कहा कि चौधरी चरणसिंह का जन्म इसी धरती पर हुआ. केंद्र ने दद्दा के नाम पर सबसे बड़ा खेल पुरस्कार देना शुरू किया. आज खेल विश्वविद्यालय का नाम मेजर ध्यानचंद के नाम पर रखा जा रहा है. उनके नाम मे एक संकेत है- ध्यान. बिना ध्यान के सफलता नही मिलती है. यहां ध्यान से काम करने वाले नौजवान देश का नाम रोशन करेंगे. ये आधुनिक यूनिवर्सिटी दुनिया की श्रेष्ठ यूनिवर्सिटी में से एक होगी. खेलों से जुड़ी अंतरराष्ट्रीय सुविधाएं यहां मिलेंगी. यहां से हर साल 1 हजार से अधिक बेहतरीन खिलाड़ी तैयार होंगे. क्रांतिवीरों की नगरी खेलवीरों की नगरी के तौर पर पहचानी जाएगा. 

ये भी पढ़ें- Akhilesh Vs Yogi: सीएम योगी ने उठाया सवाल तो अब अखिलेश यादव ने दिया जवाब, बताया कैसे यूपी में फ्री देंगे 300 यूनिट बिजली

लोगों के घर जला दिए जाते थे

पीएम मोदी ने इस दौरान पिछली सरकारों पर भी जमकर हमला किया. उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों में अपराधी, माफिया अपना खेल खेलते थे. पहले अवैध कब्जे के टूर्नामेंट होते थे. बेटियों पर फब्तियां कसने वाले खुलेआम घूमते थे. लोग बोल नही सकते थे, घर जल दिए जाते थे. पहले की सरकार अपने खेल में लगी रहती थी. ये नतीजा था कि लोग अपना घर छोड़कर पलायन को मजबूर होते थे. अब ऐसे अपराधियों के साथ योगी की सरकार जेल-जेल खेल रही है.

बेटियां घर से निकलने में डरती थीं

इसी मेरठ की बेटियां शाम होने के बाद घर से निकलने से डरती थीं. अब मेरठ की बेटियां देश का नाम रोशन कर रही हैं. अब यूपी में अपने खेल को बढ़ावा मिल रहा है. यूपी के युवाओं को छा जाने का मौका मिल रहा है. जिस पथ पर महान विभूतियां चलें वही हमारा पथ है. 21 वीं सदी के नए भारत मे सबसे बड़ा दायित्व युवाओ के पास है. अब जिस मार्ग पर युवा चल दें, वही मार्ग देश का मार्ग है. जिधर युवाओ के चरण पड़ जाएं, मंजिल अपने आप कदम चूमने लग जाती है. युवा नए भारत का नियन्ता, नेतृत्वकर्ता भी है. जिधर युवा चलेगा उधर भारत चलेगा. जिधर भारत चलेगा उधर ही अब दुनिया चलने वाली है.  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here