नापाक साजिश नाकाम, 24 घंटे में 5 आतंकी मारे गए, 30 किलो आईईडी बरामद

0
20


Jammu Kashmir Terrorist Encounter: जम्मू-कश्मीर में काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशंस लगातार जारी हैं. पिछले 24 घंटों में बडगाम (Budgam) और राजौरी में दो अलग-अलग अभियानों में कुल पांच आतंकवादियों (Terrorists) का सफाया किया गया और 30 किलोग्राम आईईडी (IED) बरामद किया गया. इस साल अब तक 36 विदेशी आतंकवादियों सहित 136 आतंकवादियों का सफाया किया गया है. आज सुबह जम्मू-कश्मीर के राजौरी (Rajouri) जिले में एक संदिग्ध आत्मघाती गुट ने सेना (Army) के एक शिविर में घुसने की कोशिश की, जिसके बाद हुई मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए और तीन जवान शहीद हो गए.

अधिकारियों ने बताया कि हमले में दो अन्य जवान घायल भी हो गए, जिनका इलाज चल रहा है. अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) मुकेश सिंह ने कहा, ‘‘आतंकवादियों ने पारगल में सेना के एक शिविर की बाड़ पार करने की कोशिश की. जवानों ने उन्हें रोकने की कोशिश की और इसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई. इसमें दो आतंकवादी मारे गए हैं.” 

बडगाम में तीन आतंकवादी किए थे ढेर

इससे पहले बुधवार को बडगाम जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) के तीन आतंकवादी मारे गए थे. पुलिस ने बताया कि सुरक्षा बलों ने जिले में खानसाहिब इलाके के वाटरहेल में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद वहां घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया. तलाशी अभियान उस समय मुठभेड़ में तब्दील हो गया, जब आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां बरसानी शुरू कर दी. वांछित आतंकवादी लतीफ राठेर समेत लश्कर के तीन आतंकवादियों को मुठभेड़ स्थल पर घेर लिया गया. आतंकियों के पास से आपत्तिजनक सामग्री, हथियार और गोला-बारूद बरामद किए गए. आतंकवादी लतीफ, राहुल भट और अमरीन भट समेत कई नागरिकों की हत्या में शामिल रहा है.

राजौरी में तीन जवानों ने दी शहादत

राजौरी में हुए हमले को लेकर एडीजीपी मुकेश सिंह ने बताया कि सूबेदार राजेंद्र प्रसाद, राइफलमैन मनोज कुमार और राइफलमैन लक्ष्मणन डी ने ऑपरेशन के दौरान राजौरी में आत्मघाती हमले में 2 आतंकवादियों को बेअसर करते हुए सर्वोच्च बलिदान प्राप्त किया है. दारहल थाने से करीब छह किलोमीटर दूर स्थित सेना के इस शिविर में अतिरिक्त बल भेजा गया है. राजौरी के एसएसपी मोहम्मद असलम ने कहा कि बीती रात करीब साढ़े तीन बजे आतंकियों ने पोस्ट पर ग्रेनेड फेंका और कैंप में घुसने की कोशिश की. सेना के जवानों ने जवाबी कार्रवाई की और मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए. 3 जवान भी शहीद हो गए. वे विदेशी आतंकवादी लगते हैं. 

उपराज्यपाल ने हमले की निंदा की

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) ने राजौरी (Rajouri) जिले में सुरक्षा बलों के शिविर पर हुए इस हमले की निंदा की और आतंकवादियों और उनके समर्थकों से उचित तरीके से निपटने की बात कही. उपराज्यपाल ने एक ट्वीट में कहा, “राजौरी में हुए घृणित आतंकवादी हमले (Terrorist Attack) की कड़ी निंदा करता हूं. सर्वोच्च बलिदान देने वाले बहादुर सैनिकों को श्रद्धांजलि. हमले में शहीद हुए बहादुरों के परिवारों के प्रति हार्दिक संवेदना. हम आतंकवादियों और उनके समर्थकों के बुरे मंसूबों से उपयुक्त तरीके से निपटेंगे.” 

ये भी पढ़ें- 

Jammu Kashmir: राजौरी में उरी जैसा बड़ा आतंकी हमला नाकाम, सेना कैंप में घुस रहे 2 आतंकी ढेर, 3 जवान शहीद

India-China: भारत ने चीन को दिया करारा जवाब, पाकिस्तानी आतंकी पर बैन लगाने में लगाया था अडंगा



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here